Good News: राजस्थान की इस झील में अब की जा सकेगी बोटिंग, स्थानीय को मिलेगा रोजगार

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Jambhsar Media News Digital Desk नई दिल्‍ली: अलवर जिले को अगर पर्यटकों के लिए पर्यटन की खान कहा जाए तो यह गलत नहीं होगा. इसका कारण है कि अलवर जिले में आने वाले पर्यटकों के लिए कई ऐसे टूरिस्ट पॉइंट है, जहां लोग जाना पसंद करते हैं. दिल्ली – जयपुर के मध्य अलवर पर्यटकों के लिए एक ऐसा पॉइंट है, जहां पर पर्यटकों के लिए बोटिंग की सुविधा उपलब्ध है. हालांकि अभी सिलीसेढ़ झील पर ही पर्यटकों को बोटिंग की सुविधा मिलती है. लेकिन जल्द ही यहां आने वाले पर्यटकों को एक नई सौगात मिलने वाली है. अलवर नगर निगम की ओर से सागर जलाशय में नाव चलाने की तैयारी की जा रही है. जल्द ही इसके लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू होगी.

अलवर नगर निगम के आयुक्त मनीष कुमार ने बताया कि अलवर में पर्यटन को पंख लग रहे हैं. जल्दी भी अलवर शहर के मध्य स्थित सागर जलाशय भी पर्यटकों के लिए आकर्षण होगा. अभी सागर जलाशय में सफाई की व्यवस्था की जा रही है. इसके बाद यहां पर टेंडर प्रक्रिया अपनाकर नाव शुरू की जाएगी. इसके लिए नगर निगम की ओर से तैयारी की जा रही है. हालांकि जल्द ही नगर निगम की ओर से इस प्लान तैयार किया जाएगा. यहां पर छोटी नाव के जरिए लोग सागर में बोटिंग का लुत्फ उठा सकेंगे. अलवर में घूमने आने वाले टूरिस्ट अलवर के हृदय स्थल कहे जाने वाले मूसी महारानी की छतरी सागर जलाशय पर भी जरूर आते हैं.

WhatsApp Group Join Now

सागर जलाशय में नगर निगम की ओर से नाव चलाने का प्रयास है.इसके साथ ही यहां पर देसी- विदेशी पर्यटकों की संख्याओं में भी इजाफा होगा. जिससे साथ नगर निगम की आय में भी इजाफा होगा. नगर निगम की ओर से अब सागर जलाशय की सफाई करवाई जाएगी. जिससे यहां आने वाले पर्यटकों को सागर अपनी ओर आकर्षित कर सकेगा. अभी सागर जलाशय से में पानी के साथ-साथ जलकुंभी भी बनी हुई है व कचरा भी जमा है.

अलवर जिले में पूरे देश से पर्यटक अलवर का रुख करते हैं. क्योंकि यहां पर सरिस्का टाईगर रिजर्व, मूसी महारानी की छतरी, म्यूजियम, बाला किला, सिलीसेढ़ झील के अलावा अरावली की पहाड़ियों के बीच बसा सागर जलाशय पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करता है.

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Share This Post

Rameshwari Bishnoi

Rameshwari Bishnoi

Leave a Comment

Trending Posts