Farmers Protest: कृषक आंदोलन से राजस्थान में गंभीर हुई स्थिति, भारत बंद ऐलान के बाद बोर्डर किए सील

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Jambhsar Media News Digital Desk नई दिल्‍ली: राजस्थान-पंजाब सीमा पर साधुवाली के पास बॉर्डर सील करने के कारण बुधवार को राजस्थान-पंजाब सीमा पर बसों की आवाजाही बाधित रही। जिस कारण यात्रियों को लगभग दो किलोमीटर पैदल चलने के बाद श्रीगंगानगर आने के लिए साधुवाली गांव से टैम्पो लेना पड़ा। दूसरी तरफ, दिहाड़ी-मजदूरी के लिए आने वाले लोग भी बॉर्डर सील होने से परेशान हैं।

राजस्थान-पंजाब सीमा पर साधुवाली के पास बॉर्डर सील करने के कारण बुधवार को राजस्थान-पंजाब सीमा पर बसों की आवाजाही बाधित रही। जिस कारण यात्रियों को लगभग दो किलोमीटर पैदल चलने के बाद श्रीगंगानगर आने के लिए साधुवाली गांव से टैम्पो लेना पड़ा। दूसरी तरफ, दिहाड़ी-मजदूरी के लिए आने वाले लोग भी बॉर्डर सील होने से परेशान हैं।

WhatsApp Group Join Now

राजस्थान-पंजाब सीमा पर साधुवाली के पास बॉर्डर सील करने के बाद बुधवार को दिल्ली कूच के लिए किसानों का कोई जत्था नहीं पहुंचा। मंगलवार को दिल्ली कूच के लिए 100 के करीब किसान साधुवाली पहुंचे थे, जिन्हें बॉर्डर पार कर पंजाब जाने का प्रयास करते हुए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इस जगह अभी भी बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है। प्रशासन और पुलिस के अधिकारी किसान आंदोलन 2.0 पर लगातार नजर बनाए हुए हैं।

साधुवाली के पास बॉर्डर सील करने से पंजाब से आने वाले यात्रियों को भारी परेशानी हो रही है। पंजाब से आने वाली बसें राजस्थान-पंजाब सीमा तक ही आवागमन कर रही है। उसके बाद यात्रियों को लगभग दो किलोमीटर पैदल चलने के बाद श्रीगंगानगर आने के लिए साधुवाली गांव में टैम्पो मिलती हैं। जिन किसानों की कृषि भूमि बॉर्डर सील करने के लिए लगाए गए बैरिकेड्स के उस पार है, उन्हें अपने खेत तक जाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। राजस्थान सीमा से सटे पंजाब के गांवों से श्रीगंगानगर में दिहाड़ी-मजदूरी के लिए आने वाले लोग भी बॉर्डर सील होने से परेशान हैं। उन्हें श्रीगंगानगर आने के लिए लंबा चक्कर लगाना पड़ रहा है।

अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन अरविन्द कुमार जाखड़ ने बताया कि किसान संगठनों ने 16 फरवरी भारत बंद की घोषणा की हुई है। इसके दृष्टिगत 16 फरवरी तक तो साधुवाली बॉर्डर को सील रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि बुधवार को जिले में कहीं पर भी किसानों के प्रदर्शन आदि की सूचना नहीं है। साधुवाली बॉर्डर पर भी किसान नहीं पहुंचे।

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Share This Post

Rameshwari Bishnoi

Rameshwari Bishnoi

Leave a Comment

Trending Posts