New Fire Station Rajasthan: इस जिले में बनेगा नया फायर स्टेशन, जमीन खोजने में जुटा प्रशासन

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Jambhsar Media News Digital Desk नई दिल्‍ली: जयपुर, 15 फ़रवरी (हि.स.)। नगर निगम हैरिटेज चारदीवारी और उसके आस-पास के इलाकों से आगजनी घटना पर शीघ्रता से काबू पाया जा सके , इसके लिए नया फायर स्टेशन बनाने जा रहा है। इसके लिए आवश्यक सभी प्रक्रियाएं पूरी की जा चुकी है। इस फायर स्टेशन के लिए उपयुक्त जगह की तलाश की जा रही है।

पिछले दिनों यूनेस्को की एक टीम ने जयपुर का दौरा किया था। पर्यटन स्थलों के दौरे के दौरान टीम ने आमेर महल, जंतर-मंतर और हवामहल के पास एक फायर स्टेशन की जरुरत बताई। ताकि किसी अप्रिय घटना की अवस्था में बिना जाम में फंसे फायर बिग्रेड जल्द से जल्द इन स्थानों पर पहुंच सके। इसी को ध्यान में रखकर निगम ब्रह्मपुरी में ही फायर स्टेशन बनाएगा। अब निगम 30 मीटर चौड़ी रोड पर ही फायर स्टेशन के लिए जगह तलाश रहा है। ताकि फायर बिग्रेड को निकलने या घुसने में किसी प्रकार की परेशानी न हो।

WhatsApp Group Join Now

नगर निगम हैरिटेज सीमा में चार फायर स्टेशन बने हुए है। इनमें आमेर, चौगान, बनीपार्क और घाटगेट फायर स्टेशन शामिल है। इन सभी से फायर बिग्रेड को चारदीवारी में पहुंचने में समय लगता है। क्योंकि चारदीवारी के सभी मार्गों पर हमेशा जाम के हालात रहते है। इस तरह की समस्या पूर्व में चारदीवारी में हुई आगजनी की घटनाओं की दौरान सामने आ चुकी है।

नए फायर स्टेशन के लिए नगर निगम 500 वर्गगज जमीन तलाश रहा है। इन फायर स्टेशन को बनने के बाद ब्रह्मपुरी, जलमहल, सुभाषचौक सहित अन्य आस-पास के इलाकों मे आगजन की घटना पर तुरंत दमकल पहुंच सकेगी। फायर स्टेशन बनाने पर करीब 80 लाख रुपए खर्च होंगे। इसके लिए वित्तीय स्वीकृति सहित अन्य प्रक्रियाएं पूरी हो चुकी है। स्टेशन पर करीब 4 दमकल तैनात की जाएगी।

पानी के लिए एक 30 से 50 हजार लीटर का स्टोरेज बनाया जाएगा। इसके अलावा पानी के लिए एक ट्यूबवेल भी खुदवाया जाएगा। फायर स्टेशन को पानी सप्लाई के लिए पुरानी पाइप लाइन से भी जोड़ा जाएगा ताकि जरुरत पड़ने पर्याप्त मात्रा में पानी मिल सके।

नगर निगम हैरिटेज के सीएफओ देवेंद्र मीणा का कहना है कि फायर स्टेशन बनाने के लिए 30 मीटर चौड़ी सड़क पर जमीन तलाशी जा रही है। इसे बनाने के लिए वित्तीय स्वीकृति सहित अन्य आवश्यक प्रक्रियाएं पूरी की जा चुकी है। यूनेस्कों की पहल पर ही इसे बनाया जा रहा है।

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Share This Post

Rameshwari Bishnoi

Rameshwari Bishnoi

Leave a Comment

Trending Posts