University News: प्रोफ़ेसर जवान छात्राओं के साथ करता था ऐसा काम, खुद छात्राओं ने किया बड़ा खुलासा

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Jambhsar Media News Digital Desk नई दिल्‍ली: विभाग में 130 विद्यार्थियों में से 65 छात्राएं हैं, 40 छात्राओं ने दी शिकायत, समाचार पत्रों में खबरें पढ़ने के बाद 16 पूर्व विद्यार्थी भी पहुंचे विवि, पूर्व छात्राओं ने मोबाइल चैटिंग, वीडियो सहित कई सबूत दिए

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now
Instagram Join Now

जोधपुर. एमबीएम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अजय शर्मा ने छात्राओं से छेड़छाड़ के आरोप में आर्किटेक्चर विभाग के अध्यक्ष प्रो. पुलकित गुप्ता को सस्पेंड कर दिया है। प्रो. गुप्ता पर आर्किटेक्चर की 40 छात्राओं ने विभिन्न तरह के आरोप लगाए हैं। समाचार पत्रों में खबरें पढ़कर करीब 16 पूर्व छात्र-छात्राएं भी एमबीएम विवि पहुंचे। पूर्व छात्राओं ने प्रो. गुप्ता के साथ मोबाइल की चैटिंग, फोटो, वीडियो सहित अन्य सबूत पेन ड्राइव में पेश किए। इसमें जोधपुर के अलावा जयपुर से भी कुछ छात्र आए जो वर्तमान में अपना रोजगार कर रहे हैं।

छात्रों ने अपने साथ पढ़ने वाली सहपाठी छात्राओं के साथ हुए दुव्यर्वहार की भी सबूत सहित शिकायतें की। कुछ छात्राओं का कहना है कि उन्होंने पढ़ाई के लिए मजबूरी में वह सब भी किया जो नहीं करना चाहिए था। प्रो. गुप्ता बरसों से विभाग में छात्राओं को निशाना बना रहे थे।

अधिकांश छात्राओं के आरोप है कि प्रो. गुप्ता उन्हें गलत तरीके से छूते हैं। विरोध करने पर फेल करने की धमकी देते हैं। छात्र भी प्रो गुप्ता के अनुचित व्यवहार से परेशान हैं। आर्किटेक्चर विभाग में वर्तमान में 130 विद्यार्थी हैं, जिसमें से 65 छात्राएं हैं।

आर्किटेक्चर की एक छात्रा ने 20 फरवरी को विवि प्रशासन, प्रशासनिक अधिकारियों और समाचार पत्रों को एक गुमनाम पत्र लिखकर प्रो गुप्ता पर छेड़छाड़ करने, अंतरंग वस्त्र खींचने, अन्य विद्यार्थियों के सामने जलील करने और विवि में दस दिन पहले हुए एक इवेंट में सभी छात्र-छात्राओं से 700-700 रुपए वसूलने के आरोप लगाए थे। छात्रा के पिता ने भी प्रो. गुप्ता को समझाया लेकिन वह नहीं माने।

विवि प्रशासन ने छेड़छाड़ के मामले की जांच प्रो. जयश्री वाजपेयी की अध्यक्षता में पहले से बनी लैंगिक उत्पीड़न कमेटी को सौंपी। कमेटी की प्राथमिक जांच रिपोर्ट के आधार पर प्रो. गुप्ता सस्पेंड हुए हैं। पैसे लेने के मामले की जांच सिविल विभाग के प्रो. एसपी सिंह कर रहे हैं।

गौरतलब है कि इस मामले का खुलासा राजस्थान पत्रिका ने अपने 20 फरवरी के अंक में ‘एमबीएम विवि के प्रोफेसर पर छात्राओं से छेड़छाड़ का आरोप’ शीर्षक से प्रकाशित खबर में किया था। 

हमने प्राथमिक जांच रिपोर्ट के आधार पर प्रो. पुलकित गुप्ता को सस्पेंड कर दिया है। एचओडी का कार्यभार अब डीन प्रो. राजेश भदादा को दिया गया है।
-प्रो. अजय शर्मा, कुलपति, एमबीएम विश्वविद्यालय, जोधपुर

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Share This Post

Rameshwari Bishnoi

Rameshwari Bishnoi

Leave a Comment

Trending Posts

और भी