Water Project: राजस्थान के इन 13 जिलों की बुझेगी प्यास, इस तरह मिलेगा पानी

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Jambhsar Media News Digital Desk नई दिल्‍ली: मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का सपना था कि नदियों को नदियों से जोड़ा जाए। उन्होंने योजना की शुरुआत की, लेकिन बाद में कांग्रेस सरकार आते ही इस प्रोजेक्ट को आगे नहीं बढ़ने दिया गया। वर्ष 2016 में ईआरसीपी की योजना बनाई गई, लेकिन कांग्रेस सरकार ने इसे भी यहां अटका दिया। हमने विधानसभा चुनाव से पहले संकल्प पत्र में कहा था कि सरकार बनते ही हम ईआरसीपी परियोजना को लागू कर देंगे। सरकार ने एक माह में ही इसे लागू कर दिखाया।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now
Instagram Join Now

सीएम बोले- जो कहा, सो किया…अलवर समेत 21 जिलों की प्यास बुझाएगी ईआरसीपी, जयसमंद समेत 126 तालाब होंगे लबालब 

– सीएम ने बड़ौदामेव में आयोजित ईआरसीपी आभार सभा में कहा, अलवर की 5 हजार हैक्टेयर भूमि की हो सकेगी सिंचाई, 20 हजार किसानों को मिलेगा सीधा फायदा

– बोले- पीएम नरेंद्र मोदी जिस परियोजना का करते हैं शिलान्यास, उसका उद्घाटन भी करते, इसी कार्यकाल में घरों से लेकर खेतों तक पहुंचाएंगे पानी 

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का सपना था कि नदियों को नदियों से जोड़ा जाए। उन्होंने योजना की शुरुआत की, लेकिन बाद में कांग्रेस सरकार आते ही इस प्रोजेक्ट को आगे नहीं बढ़ने दिया गया। वर्ष 2016 में ईआरसीपी की योजना बनाई गई, लेकिन कांग्रेस सरकार ने इसे भी यहां अटका दिया। हमने विधानसभा चुनाव से पहले संकल्प पत्र में कहा था कि सरकार बनते ही हम ईआरसीपी परियोजना को लागू कर देंगे। सरकार ने एक माह में ही इसे लागू कर दिखाया। इसी कार्यकाल में अलवर समेत प्रदेश के 21 जिलों को पानी मिलेगा। सिंचाई होगी। 126 बांध लबालब होंगे। शर्मा शनिवार को बड़ौदामेव में आयोजित ईआरसीपी आभार सभा को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि अगले 50 साल तक पानी का संकट नहीं होगा। कांग्रेस ने ईआरसीपी को अटकाने का काम किया। कांग्रेस के पैर जमीन पर नहीं हैं। हवाई किले बनाने में जुटी थी। हम जमीन पर रहते हैं और जमीन पर काम करते हैं। उन्होंने ईआरसीपी पर मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ की चिट्ठी का जिक्र किया और कहा कि गहलोत सरकार ने ईआरसीपी को लेकर कमलनाथ को चिट्टी लिखी तो उनकाे उल्टा जवाब मिला। वह लागू नहीं करना चाहते थे। हमने जो संकल्प लिए थे, पूरे किए। पहले धारा 370 हटाई फिर रामलाल की प्राण प्रतिष्ठा हुई। अब ईपीआरसी लागू की। पीएम नरेंद्र मोदी पर जिस तरह आपने विश्वास जताया है, उस विश्वास को हम पूरा करेंगे। उन्होंने जनता को दिल्ली-मुंबई हाइवे की याद दिलाई। कहा, बिना जाम के ही अब डेढ़ घंटे में आप दिल्ली पहुंच जाते हैं।

सीकर, चूरू, झुंझनू में भी नहीं होगा पानी का संकट
सीएम ने कहा कि इस परियोजना से अलवर की 5 हजार हैक्टेयर भूमि की सिंचाई हो सकेगी। 20 हजार किसानों को सीधा लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि आतंकवाद व भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने वाली कांग्रेस सरकार में दादी से लेकर सोनिया गांधी तक ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था जो आज तक पूरा नहीं हुआ। पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार ने 25 करोड़ से ज्यादा लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकालने का काम किया है। सीकर, चूरू, झुंझुनूं की 35 साल से अटकी पानी की योजना भी धरातल पर आएगी। पाइपलाइन से पानी पहुंचाएंगे। जल स्वावलंबन योजना के जरिए वाटर रिचार्जिंग होगी, जिससे पानी का संकट और दूर होगा। इस योजना के लिए 11 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का आवंटन किया गया है।

हमारा व्हाट्सएप चैनल जॉइन करें: Click Here

Share This Post

Rameshwari Bishnoi

Rameshwari Bishnoi

Leave a Comment

Trending Posts

और भी